गुरुवायुर मंदिर हाथी सीवेली यात्रा

गुरुवायुर मंदिर केरल के थ्रिस्सूर जिले में है। यह मंदिर श्री कृष्ण को अर्पित है और भारत में सबसे लोकप्रिय तीर्थ स्थलों में से एक है। सीवेली एक प्रतिदिन की जाने वाली यात्रा है जो मंदिर के परिसर में की जाती है। यह एक सजे-धजे हाथियों के जुलूस है जिनमे से एक हाथी श्री कृष्णा की मूर्ति उठाये हुए है।

गुरुवायुर मंदिर के चारों ओर उज्ज्वलित 1 लाख दीपक

गुरुवायुर मंदिर के चारों ओर उज्ज्वलित 1 लाख दीपक

यह यात्रा सुबह ७ बजे , ५:३० और ८:३० बजे की जाती है। रात्रि की सीवेली यात्रा सबसे सुन्दर होती है। ढोलक तथा नादस्वरम की आवाज़ इसे और मनमोहन बनती है। मंदिर का परिसर १ लाख दीपमाला तथा धुप और विशेष सम्ब्रानी की उज्ज्वलित होता है। त्यौहार के दिनों में तो इसकी शोभा देखते ही बनती है.

हाथियों का केंद्र मंदिर से ३ किलोमीटर पर अनथवालाम और पुन्नथूरकोट्टा में है। ऑटो से यहाँ जा सकते है। यह स्थान सुबह ९ से ५ तक खुला रहता है और यहाँ ६०-८० हाथी है। सभी हाथी मंदिर की देख रेख में है। यहाँ से इन हाथीओ को सीवेली के समय मंदिर ले जाया जाता है।

पुजारी हाथी पर भगवान कृष्ण मूर्ति पकड़े

पुजारी हाथी पर भगवान कृष्ण मूर्ति पकड़े

हाथी जुलूस गुरुवायुर मंदिर

हाथी जुलूस गुरुवायुर मंदिर

इस यात्रा के नीचे दिए गए चित्र २००२ में लिए गए थे इसीलिए शायद पूरी तरह से साफ़ न हो। परन्तु २००२ के बाद मंदिर ने फोटो खीचना बंद करवा दिया है। इसलिए ये काफी दुर्लभ चित्र है।

translated by Ananya

Address

  • गुरुवायुर मंदिर हाथी सीवेली यात्रा
    Guruvayur

    Guruvayur, Kerala - 680101
  • Media

  • Travel Operators

Most Read Articles